Gulzar Sahab Quotes

Gulzar sahab Quotes, New Hindi Shayari
Gulzar Quotes

गुस्सा भी क्या करूँ तुम पर,

तुम हँसते हुए बेहद अच्छे लगते हो!

Gulzar sahab Quotes, New Hindi Shayari
Gulzar Quotes

ख़ुद को कितना भुला दिया मैंने,

अपने आप को भी अब अजनबी सा लगता हू!

Gulzar sahab Quotes, New Hindi Shayari
Gulzar Quotes

छोटी सी उम्र में हमने भी एक गुनाह कर दिया,

दर्द सहने के बजाय लिखना शुरु कर दिया…!

Gulzar sahab Quotes, New Hindi Shayari
Gulzar Quotes

तुम्हे जो याद करता हुँ, मै दुनिया भूल जाता हूँ ।

तेरी चाहत में अक्सर, सभँलना भूल जाता हूँ ।।

Gulzar sahab Quotes, New Hindi Shayari
Gulzar Quotes

मैं किस्सा हूँ अनसुलझा सा,

अनसुलझी मेरी कहानी है,,

कुछ मेरे टूटे सपने हैं,

और कुछ उनकी मेहरबानी है,!.!

Gulzar sahab Quotes, New Hindi Shayari
Gulzar Quotes

जो बीत गई,फिर वही बात हुई,

मै मिला मुझी में कहीं,ना बात हुई,

ना मुलाकात हुई…!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here